Facebook के 20 साल बेमिसाल, जानें 2004 से 2024 तक की कहानी और 2044 तक की उम्मीदें

Facebook: फेसबुक ने अपने 20 साल पूरे कर लिए हैं. दुनिया में फेसबुक का अस्तित्व आज से 20 साल पहले 4 फरवरी 2004 को आया था. दुनिया के इस दिग्गज सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के बारे में ज्यादातर लोगों को यह बात पता नहीं होगी कि फेसबुक की शुरुआत 2004 में ही हो गई थी, जब दुनिया के ज्यादातर यूजर्स स्मार्टफोन और इंटरनेट जैसी चीज का नाम भी नहीं जानते थे. फेसबुक ने 2004 से 2024 तक का सफर कैसे तय किया है, उसमें क्या बदलाव आए हैं, आइए हम इन सभी चीजों के बारे में बात करते हैं. फेसबुक का शुरुआती कंप्टीशन आज से 20 साल पहले सोशल मीडिया के नाम पर MySpace और Orkut जैसे प्लेटफॉर्म्स हुआ करते थे, लेकिन फेसबुक के आने के बाद बाकी सभी प्लेटफॉर्म्स का नामों-निशान खत्म हो गया. फेसबुक ने पिछले 20 सालों में कई उतार-चढ़ाव देखे हैं, लेकिन फिर भी इसके मालिक मार्क जुकरबर्ग ने अपने इस प्लेटफॉर्म को लगातार आगे बढ़ाया. 2004 में फेसबुक का नाम द फेसबुक (The Facebook) था. उस वक्त तक अपनी फोटो शेयर करना और अपने दोस्तों को टैग करने वाला कोई प्लेटफॉर्म नहीं था. ऐसे में फेसबुक ने फोटो शेयरिंग और टैगिंग की सुविधा शुरू करके इस प्लेटफॉर्म को लॉन्च के वक्त से काफी अलग और खास बना दिया था. फेसबुक ने लॉन्च होने के बाद कुछ ही वक्त में काफी लोकप्रियता हासिल कर ली थी. लॉन्च होने के सिर्फ एक साल बाद ही 10 लाख लोग फेसबुक फैमिली का हिस्सा बन चुके थे. अगले करीब 8 सालों में फेसबुक की लोकप्रियता 1000 गुना बढ़ गई और 2012 तक 1 अरब लोग फेसबुक फैमिली का हिस्सा बन चुके थे. फेसबुक की शुरुआत को एक विकसित देश अमेरिका से हुई थी, लेकिन इसकी लोकप्रियता विकासशील और अविकसित देशों तक में भी पहुंची. जिन देशों में इंटरनेट या एंटरटेनमेंट की ज्यादा सुविधाएं नहीं थी, फेसबुक ने वहां भी अपनी पहचान बनाई. फेसबुक ऐसा पहला सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म था, जिनसे यूजर्स को पर्सनलाइज़्ड अनुभव देना शुरू किया था. यूजर्स को एक नई तरह की चीज इस्तेमाल करने का मौका मिला था, और उन्हें काफी मजा आ रहा था. फेसबुक के जरिए खोए हुए दोस्तों से मिले लोग फेसबुक के जरिए लोगों को अपने सालों पुराने दोस्तों से फिर से मिलने का मौका मिला, जिनका फोन नंबर या एड्रेस भी उनके पास नहीं था. फेसबुक के जरिए आप अपने दोस्तों के जन्मदिन, उनके डेली एक्टिविटीज़, उनके जीवन के खास अपडेट के बारे में जानकारी पता कर सकते हैं. हालांकि, उसके बाद फेसबुक के सामने लोगों की प्राइवेसी को खतरे में लाने की समस्या आई, लेकिन फेसबुक ने कई प्राइवेसी फीचर लाकर उस समस्या को भी दूर कर दिया. फेसबुक के शुरुआती दौर में लोगों को कॉल करने के लिए काफी पैसे खर्च करने पड़ते थे. मैसेज करना भी फ्री नहीं था, लेकिन फेसबुक के जरिए लोगों को इंटरनेट का यूज करके फ्री में लोगों से मैसेज करके बातचीत करने का एक जरिया मिला. धीरे-धीरे फेसबुक लोगों को अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए एक अच्छा प्लेटफॉर्म लगने लगा. फेसबुक ने भी यूजर्स की डिमांड को समझा और बिजनेसमैन के लिए एडवरटाइज़मेंट के कई नए फीचर्स लॉन्च किए. बिजनेस बड़ा हो या बेहद छोटा, यूजर्स फेसबुक पर प्रचार करके अपना बिजनेस बढ़ा सकते हैं. बिजनेसमैन के बाद पॉलिटिशन्स ने भी अपने प्रचार-प्रसार के लिए फेसबुक का सहारा लेना शुरू किया और उन्हें इसका फायदा भी मिला. फेसबुक का नुकसान फेसबुक से पिछले 20 सालों में बहुत सारे फायदे हुए हैं, लेकिन इसके कुछ नुकसान भी हुए हैं. फेसबुक समेत तमाम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स के जरिए फेक न्यूज़ यानी गलत ख़बर काफी जल्दी फैल जाती है, जिसका समाज में काफी नुकसान होता है. फेसबुक का इस्तेमाल करके लोगों ने धोखाधड़ी करनी भी शुरू कर दी. ऐसे लोग अपना फेक यानी नकली प्रोफाइल बनाकर या किसी अन्य वक्ति के नाम से नकली प्रोफाइल बनाकर उनके दोस्तों या रिश्तेदारों से पैसे ठगने का काम करते हैं.  इसके अलावा फेसबुक के जरिए बच्चों पर भी काफी बुरा प्रभाव पड़ रहा है, जिसकी वजह से फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग को हाल ही में अमेरिका के एक कोर्ट में सांसदों और पीड़ित बच्चों के माता-पिता से माफी भी मांगनी पड़ी थी. हालांकि, फेसबुक यूजर्स को इन नुकसानों से बचने के लिए लगातार प्रयास कर रही है, और उम्मीद है कि आने वाले समय में हमें इन समस्याओं से पूरी तरह निजात मिल सकेगी. अगले 20 साल में फेसबुक फेसबुक में लगातार बदलाव किए जा रहे हैं. अब फेसबुक मेटा कंपनी के अंदर में आता है. मेटा के अंदर में फेसबुक के साथ-साथ इंस्टाग्राम और व्हाट्सऐप भी आती है. फेसबुक अगले 20 सालों में पिछले 20 सालों की तुलना में कई गुना ज्यादा बदल जाएगा. विशेषज्ञों के मुताबिक फेसबुक में सबसे बड़ा बदलाव एआई यानी आर्टिफिशल टेक्नोलॉजी से जुड़ा होगा. एआई काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है और विकसित भी होता जा रहा है. ऐसे में फेसबुक में एआई के कई खास फीचर्स आ सकते हैं, जिससे यूजर्स का एकपीरियंस काफी ज्यादा एडवांस हो सकता है, जिसकी हम इस वक्त कल्पना भी नहीं कर सकते हैं. यह भी पढ़ें:  बेहद सस्ती कीमत में जल्द लॉन्च होगा एक जबरदस्त फोन, प्रीमियम स्मार्टफोन जैसा होगा डिजाइन

Feb 5, 2024 - 18:00
 0  1
Facebook के 20 साल बेमिसाल, जानें 2004 से 2024 तक की कहानी और 2044 तक की उम्मीदें

Facebook: फेसबुक ने अपने 20 साल पूरे कर लिए हैं. दुनिया में फेसबुक का अस्तित्व आज से 20 साल पहले 4 फरवरी 2004 को आया था. दुनिया के इस दिग्गज सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के बारे में ज्यादातर लोगों को यह बात पता नहीं होगी कि फेसबुक की शुरुआत 2004 में ही हो गई थी, जब दुनिया के ज्यादातर यूजर्स स्मार्टफोन और इंटरनेट जैसी चीज का नाम भी नहीं जानते थे. फेसबुक ने 2004 से 2024 तक का सफर कैसे तय किया है, उसमें क्या बदलाव आए हैं, आइए हम इन सभी चीजों के बारे में बात करते हैं.

फेसबुक का शुरुआती कंप्टीशन

आज से 20 साल पहले सोशल मीडिया के नाम पर MySpace और Orkut जैसे प्लेटफॉर्म्स हुआ करते थे, लेकिन फेसबुक के आने के बाद बाकी सभी प्लेटफॉर्म्स का नामों-निशान खत्म हो गया. फेसबुक ने पिछले 20 सालों में कई उतार-चढ़ाव देखे हैं, लेकिन फिर भी इसके मालिक मार्क जुकरबर्ग ने अपने इस प्लेटफॉर्म को लगातार आगे बढ़ाया.

  • 2004 में फेसबुक का नाम द फेसबुक (The Facebook) था. उस वक्त तक अपनी फोटो शेयर करना और अपने दोस्तों को टैग करने वाला कोई प्लेटफॉर्म नहीं था. ऐसे में फेसबुक ने फोटो शेयरिंग और टैगिंग की सुविधा शुरू करके इस प्लेटफॉर्म को लॉन्च के वक्त से काफी अलग और खास बना दिया था.
  • फेसबुक ने लॉन्च होने के बाद कुछ ही वक्त में काफी लोकप्रियता हासिल कर ली थी. लॉन्च होने के सिर्फ एक साल बाद ही 10 लाख लोग फेसबुक फैमिली का हिस्सा बन चुके थे.
  • अगले करीब 8 सालों में फेसबुक की लोकप्रियता 1000 गुना बढ़ गई और 2012 तक 1 अरब लोग फेसबुक फैमिली का हिस्सा बन चुके थे.
  • फेसबुक की शुरुआत को एक विकसित देश अमेरिका से हुई थी, लेकिन इसकी लोकप्रियता विकासशील और अविकसित देशों तक में भी पहुंची. जिन देशों में इंटरनेट या एंटरटेनमेंट की ज्यादा सुविधाएं नहीं थी, फेसबुक ने वहां भी अपनी पहचान बनाई.
  • फेसबुक ऐसा पहला सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म था, जिनसे यूजर्स को पर्सनलाइज़्ड अनुभव देना शुरू किया था.
  • यूजर्स को एक नई तरह की चीज इस्तेमाल करने का मौका मिला था, और उन्हें काफी मजा आ रहा था.

फेसबुक के जरिए खोए हुए दोस्तों से मिले लोग

  • फेसबुक के जरिए लोगों को अपने सालों पुराने दोस्तों से फिर से मिलने का मौका मिला, जिनका फोन नंबर या एड्रेस भी उनके पास नहीं था.
  • फेसबुक के जरिए आप अपने दोस्तों के जन्मदिन, उनके डेली एक्टिविटीज़, उनके जीवन के खास अपडेट के बारे में जानकारी पता कर सकते हैं.
  • हालांकि, उसके बाद फेसबुक के सामने लोगों की प्राइवेसी को खतरे में लाने की समस्या आई, लेकिन फेसबुक ने कई प्राइवेसी फीचर लाकर उस समस्या को भी दूर कर दिया.
  • फेसबुक के शुरुआती दौर में लोगों को कॉल करने के लिए काफी पैसे खर्च करने पड़ते थे. मैसेज करना भी फ्री नहीं था, लेकिन फेसबुक के जरिए लोगों को इंटरनेट का यूज करके फ्री में लोगों से मैसेज करके बातचीत करने का एक जरिया मिला.
  • धीरे-धीरे फेसबुक लोगों को अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए एक अच्छा प्लेटफॉर्म लगने लगा. फेसबुक ने भी यूजर्स की डिमांड को समझा और बिजनेसमैन के लिए एडवरटाइज़मेंट के कई नए फीचर्स लॉन्च किए.
  • बिजनेस बड़ा हो या बेहद छोटा, यूजर्स फेसबुक पर प्रचार करके अपना बिजनेस बढ़ा सकते हैं.
  • बिजनेसमैन के बाद पॉलिटिशन्स ने भी अपने प्रचार-प्रसार के लिए फेसबुक का सहारा लेना शुरू किया और उन्हें इसका फायदा भी मिला.

फेसबुक का नुकसान

फेसबुक से पिछले 20 सालों में बहुत सारे फायदे हुए हैं, लेकिन इसके कुछ नुकसान भी हुए हैं. फेसबुक समेत तमाम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स के जरिए फेक न्यूज़ यानी गलत ख़बर काफी जल्दी फैल जाती है, जिसका समाज में काफी नुकसान होता है.

फेसबुक का इस्तेमाल करके लोगों ने धोखाधड़ी करनी भी शुरू कर दी. ऐसे लोग अपना फेक यानी नकली प्रोफाइल बनाकर या किसी अन्य वक्ति के नाम से नकली प्रोफाइल बनाकर उनके दोस्तों या रिश्तेदारों से पैसे ठगने का काम करते हैं. 

इसके अलावा फेसबुक के जरिए बच्चों पर भी काफी बुरा प्रभाव पड़ रहा है, जिसकी वजह से फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग को हाल ही में अमेरिका के एक कोर्ट में सांसदों और पीड़ित बच्चों के माता-पिता से माफी भी मांगनी पड़ी थी.

हालांकि, फेसबुक यूजर्स को इन नुकसानों से बचने के लिए लगातार प्रयास कर रही है, और उम्मीद है कि आने वाले समय में हमें इन समस्याओं से पूरी तरह निजात मिल सकेगी.

अगले 20 साल में फेसबुक

फेसबुक में लगातार बदलाव किए जा रहे हैं. अब फेसबुक मेटा कंपनी के अंदर में आता है. मेटा के अंदर में फेसबुक के साथ-साथ इंस्टाग्राम और व्हाट्सऐप भी आती है. फेसबुक अगले 20 सालों में पिछले 20 सालों की तुलना में कई गुना ज्यादा बदल जाएगा. विशेषज्ञों के मुताबिक फेसबुक में सबसे बड़ा बदलाव एआई यानी आर्टिफिशल टेक्नोलॉजी से जुड़ा होगा.

एआई काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है और विकसित भी होता जा रहा है. ऐसे में फेसबुक में एआई के कई खास फीचर्स आ सकते हैं, जिससे यूजर्स का एकपीरियंस काफी ज्यादा एडवांस हो सकता है, जिसकी हम इस वक्त कल्पना भी नहीं कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें:  बेहद सस्ती कीमत में जल्द लॉन्च होगा एक जबरदस्त फोन, प्रीमियम स्मार्टफोन जैसा होगा डिजाइन

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

राकेश कुमार मौर्या मै राकेश कुमार मौर्या आपके अपने वेबसाइट mysmarthelps में स्वागत है "टेक्निकल और न्यूज़ - इस जगह पर आपको , जहाँ तकनीकी क्षेत्र के नवीनतम खबरें और ताज़ा अपडेट्स, समस्याओं के समाधान, Mobile and Laptop सम्बंधित समस्यायों का समाधान , दुनिया की ताज़ा खबरें मिलेंगी। हर दिन कुछ नया, हर विचार नया। #टेक्नोलॉजी #न्यूज़ #टिप्सऔरट्रिक्स #ब्लॉग"